Categories
Internet

Search engine पर यह कुछ चीज़े बिल्कुल सर्च ना करे

Search Engine आज के दौर मे पुरी दुनिया के इन्सानो के लिये मानो जैसे एक महत्त्वपूर्ण अंग बन गया हो कोई भी चीज़ की जानकारी चाहे होती हे तो तुरंत हम सर्च इंजन की सहायता लेते हे, मगर कुछ चीज़े एसी हे जिसे सर्च करना मानो बहोत बडी भुल और नुकसान के अलावा कुछ नही तो चलिये जानते है की वह कौन कौन सी चीज़े है वह भी हिन्दी मे सरल शब्दों द्वारा।

आज के जमाने मे छोटे से छोटी और कोई भी बड़े चीज़ो की जानकारी जाननी हो तो लॉग तुरंत हो अपने मोबाइल, कंप्यूटर, लेपटॉप या टेबलेट की मदद से सर्च इंजन पर खोजने लग  जाते है चाहे फिर वो Google, Internet explorer, या Chrome Search engine हो, इन सब मे से सबसे ज़्यादा और Popular सर्च इंजन हो तो वह हे Google, छोटे बच्चो से लेकर बड़े तक सभी को जो भी जानकारी चाहिये तो वह गूगल पर सर्च करने हाज़िर हो जाते है, मगर क्या यह Serch Engine सेफ़ होते है? इन से आपको जानकारी तो मिल जाति है मगर कुछ एसी Website होती हे जो आपके data Privacy का काम तमाम कर देते है जो की यह बहोत ही बड़ा नुकसान है users के लिये।
कई देशो मे तो कुछ serch engine पर की सेवाओ को प्रतिबंध लगाया हुवा है, उसकी वजह यह बतायी गयी है की उससे डाटा चोरी और जासूसी की जाति है, मगर फिर भी आज पुरी दुनिया मे Google नम्बर 1 सर्च इंजन है, तो चलिये हम आपको बताते हे एसी चीज़े जिससे आप उससे सतर्क रहे वह भी हिन्दी मे सरल शब्दों द्वारा

कौन कौन सी चीज़ों को आपको भूलकर भी search नही करना है?

1) Free Software :-

कई users अपने मोबाइल और computer के लिये Liecence Software के इस्तेमाल करने के बदले free सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल करना ज़्यादा पसँद करते है, बल्कि origional लाईसेंस सॉफ्टवेयर के क्रैक वर्ज़न भी इंटरनेट पर ढूँढते रहते है, मगर एसे ज़्यादातर सॉफ्टवेयर virus infacted होते है।

2) Customer care Number :-

Search engine पर कस्टमर केर नम्बर का सर्च करना यह पुरी दुनिया मे देखने जाये तो सबसे बड़ा फ्रॉड छुपा है, साईबर क्रिमिनल ज़्यादातर सर्विस देने वाली कंपनी के नाम से गलत नम्बर Show करने वाली duplicate वेबसाईट बनाते है और वह कॉल करके अपने आप को उसी कंपनी मे जॉब करने वाले बताते है और लोगो का मनोबल जीतकर उन्हे शिकार बना लेते है, हमेशा आपको किसी कंपनी का customer number चाहिये तो ध्यान रखे की आप उस कंपनी की origional वेबसाइट पर जाकर ही प्राप्त करे।

3) Self information :-

कुछ लॉग बेताब होते है की अपने आप को Google पर सर्च करके देखने के लिये की उनका नाम गूगल पर दिखता हे या नही, उसके लिये वह user खुशी खुशी अपना नाम सर्च करता है और साथ ही अपना मोबाइल नम्बर, जन्म तिथि, ईमेल ऐड्रेस आदी सर्च कर लेता है, इसी के साथ यह तमाम इन्फोर्मेशन सर्च इंजन अपने database मे स्टोर करके सेव कर लेता है, जो की यह भविष्य के लिये मुसीबतों भरा हो सकता है।

4) Porn literature (साहित्य) :-

Search engine पर user पोर्न साहित्य ढूँढने के लिये सर्च करता है तब ही उसे दुसरी वेबसाइट पर redirect किया जाता है, उसके बाद उस वेबसाइट पर Registration के लिये कहा जाता है, एक बार आपने registration कर लिया उसके बाद आपका दी हुयी इन्फोर्मेशन को अलग अलग डेटींग साइट के साथ जोड दिया जाता है।

5) Child pornography :-

चिल्ड्रन पोर्नोग्राफि वेबसाइट पर सर्च करने मे आये या फ़ोटो सर्च करने मे आये, उसके रिलेटेड साहित्य ढूँढने मे आये या उसकी वीडियो डाउनलोड करने मे आये तब Users के ip adress को ट्रैक करने मे आता है।

6) Location :-

Search engine जब आपकी लोकेशन का पता लगा लेता है वह लोकेशन एरिया के search engine के साथ जुडे हुवे वेपार करने वाले वेपारियो की Ads आपके Device पर बार बार Pop up होती रहती है, उसके रिजल्ट स्वरूप जब युसर social media या Browsing करता है तब बार बार एसी बिना काम की ऐड्स उसके काम मे मुश्किलि पेदा करती है।

7) How to miscarry ( गर्भपात किस तरह करना) :-

आज के वक़्त मे गर्भपात किस तरह करना उसके घरेलू इलाज ढूँढने के लिये गर्भपात सर्च word यह सर्च इंजन मे बहोत ज़्यादा ट्रेंड हो रहा है, सरकार पुरुष और महिलाओ के बर्थ रेट को एक समान करने के प्रयत्न मे लगी हुई हो तब यह बाते सर्च करने वालो को मुश्किलि मे डाल देती है, सरकार खास तौर पर इस टाईप के key word सर्च करने वालो पर नज़र जमाये बेठी है।

8) Details or research on any website (किसी भी वेबसाइट पर विवरण या शोध) :-

कई मर्तबा अनजाने मे user अलग अलग वेबसाइट की visit कर लेता है, उस पर के Content और फ़ोटो अलग अलग जगह पर user शेयर करता है, तब user कई मर्तबा credit लेने के लिये original नाम के बदले अपना नाम डाल देता है, एसी परिस्थिति मे कॉपीराइट ऐक्ट के तहत मुश्किलि मे जा सकता है।

9) Details and prescriptions related to the disease (रोग से संबंधित विवरण और नुस्खे) :-

किसी बिमारी के नुस्खे और विवरण को सर्च नही करना चाहिये, बिमार व्यक्ति अगर इन नुस्खे मे लापरवाही करे तो वह व्यक्ति मौत के करीब या उसे मौत आ सकती है इसी तरह उसे ज़िन्दगी से हाथ धोना पड़ सकता है, क्योकि एक report के हिसाब से सर्च इंजन पर बिमारी के related जानकारी 60% गलत हो सकती है।

Search engine पर यह कुछ चीज़े बिल्कुल सर्च ना करे Article का आखरी शीर्षक

मे आशा करता हू की मेरा यह Article आपको ज़रूर अच्छा लगा होगा और आपने इस पोस्ट ( Search engine पर यह कुछ चीज़े बिल्कुल सर्च ना करे) की माध्यम से बहोत कुछ सिखा होगा ।

मेरा यही लक्ष्य रहा है की आप जब मेरा यह आर्टिकल को पढ़ें तो आप को इस के related पुरी के पुरी जानकारी प्राप्त हो वह भी हिन्दी मे सरल शब्दो द्वारा।

अगर आप यह Article के प्रति कुछ कहना चाहते है या कोई शंका है तो आप नि:संकोच होकर निचे Comments मे बता सकते है।

आप इस Article को अपने Social media platform (Twitter, Facebook, LinkedIn, Watsapp etc) पर SHARE ज़रुर करे।

18 replies on “Search engine पर यह कुछ चीज़े बिल्कुल सर्च ना करे”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *